हिंदी सेक्स बीपी

बहन की चूत की चुदाई

बहन की चूत की चुदाई, यह सुन कर चाची बोली- तुम जान मांग लो रेशु ! वो भी हाजिर है ! मैं बिलकुल मना नहीं करूंगी किसी भी बात के लिए ! तुम जो कहोगे वो करूंगी ! जस्सी सिस्कारिया लेने लगी- अअअअ.. आआआअ.. ह्ह्ह्ह्ह्.. ऊऊ..ओह्ह्ह्ह.. रेशु बेबी.. और जोर-जोर से चूसो.. ऊओ..ह.. बहुत अच्छा लग रहा है.

रमेश- मुझे चुदाई के बाद तुम जैसी रंडियों की ब्रा और पेंटी कलेक्ट करने की आदत है. एक बार मेरे सामने अगर किसी औरत की ब्रा और पैंटी खुल गयी तो खुल गयी। फिर वो मेरी हो जाती है. मैं- वाउ.. यार क्या मस्त गान्ड है.. इसको देख कर मेरा तो लंड खड़ा हो गया है.. और इस पर वो तिल तो.. और भी क़यामत लग रही हो।

मैं- हाँ बेटा.. नहीं भरोसा हो.. तो देख ये ओढ़नी किसकी है.. पहचानता है ना और अगर फिर भी भरोसा नहीं है तो जाकर उसके कमरे में देख ले। बहन की चूत की चुदाई तो वो बोली- हाँ रेशु, बोलो ना अब क्या करूँ? वैसे भी तुम्हारे चाचा का अभी फोन आया था वह अभी चार घंटे और नहीं आएंगे तो अगले चार घंटे पूरी तरह से हमारे हैं.

सेक्सी ब्लू पिक्चर वीडियो में देखने वाली

  1. इस अचानक हुए हमले से सोनम उछल पड़ी, चूत पर पहली बार किसी मर्द का एहसास कैसा होता है यह उन सब लड़कियों और औरतों को पता है जो लंड का मज़ा ले चुकी है।
  2. एक पल के लिये भी मैंने नजरें नहीं हटाईं क्योंकि मुझे अब कोई डर नहीं था। उसकी चाहत मुझ पर हावी थी और मुझे उसके ख्यालों का पता लग चुका था। एक्स एक्स एक्स भोजपुरी एचडी
  3. मेरा लंड आज तक इतने उफान पर नहीं आया, पर खुद की बहन के चुचे देख कर आज साला क़ुतुबमीनार को भी मात दे रहा था. दीदी की गर्लफ्रेंड वाले सवाल से मुझमें भी जोश आ गया था. मैंने भी उससे पूछ लिया- आपका कोई बॉयफ्रेंड है?
  4. बहन की चूत की चुदाई...हां हां, हमसे काहे मिलेगी। मैं कोई मर्द थोड़ी न हूं। खैर छोड़ो यह सब बात। वह आने वाली होगी, नाश्ता पानी का व्यवस्था करो जा कर। मैं बोली। हरिया तुरंत किचन में जा घुसा। रामलाल भी फ्रेश होने भागा। रेखा जो आने वाली थी। पांंच बजते बजते ही रेखा आ धमकी पंकज के साथ। वो तो इस उम्मीद में बैठी हुई थी कि बस अब मेरा लंड उनकी चूत में जाकर उनकी आग को बुझाएगा लेकिन मेरे इरादे तो कुछ और ही थे.
  5. मैंने उनसे बोला- आप नागपुर आ जाओ. फिर एक दिन उसे भी नागपुर बुला लेंगे. आप यहां पर मिल लेना, पर कुछ ही घंटे मिलने मिल पाएगा. मैं- क्यों क्या.. वहाँ खुल कर मस्ती करेंगे.. मेरा अपना फ्लैट है.. और कोई रोकने-टोकने वाला भी नहीं है।

वीडियो हिंदी में सेक्सी

उसे ट्रेडीशनल कपड़े ही पहनना ही पसंद हैं इसलिए वो सलवार सूट वगैरह पहन कर ही कॉलेज आती है. कभी-कभी मम्मी के कहने पर स्कर्ट भी पहन लेती है. मेरी कुछ खास फ्रेंड्स हैं जो अक्सर कहती हैं कि स्वप्निल अगर रीमा चाहे तो तुझसे हॉट दिख सकती है.

रमेश- ठीक है मेरी जान. लेकिन ऐसा मत कहो कि बदबू आएगी. ये तो अमृत है. मेरा तो दिल करता है कि तेरी चूत से निकला इसका एक-एक कतरा पी जाऊँ। ‘दीदी… मुँह में लेकर तो देख बहुत मज़ा आएगा, शुरू शुरू में मुझे भी अच्छा नहीं लगता था पर अब तो जब तक लंड चूस ना लूं चुदाई का मज़ा नहीं आता।’ पायल ने अपना अनुभव सोनम को बताया।

बहन की चूत की चुदाई,उत्तेजना में आकर रमेश भी सिसकारने लगा- आह्ह … यस्स … रीता … आह्ह … तेरी गांड … चोद दूं तुझे … मेरी रंडी … आह्ह क्या मस्त गांड है तेरी … आह्ह रीता मेरी रंडी … यस्स आह्ह फक यू… आह्ह… फाड़ दूंगा आज।

वो अभी भी पेशेंट चेक करने में बिजी थी. एक दो बार चाची ने मुझे उन्हें देखते हुए देखा और मैंने फिर आँखें फेर ली तो मुझे लगा की उन्हें कुछ डाउट हुआ पर वो अपने काम में बिजी हो गयी और में अपने काम मे.

मैंने थोड़ी देर उसकी कुर्ती में से उसके तने हुए बूब्स को दबाया फिर मैं उसके बूब्स को बाहर निकालकर चूसने लगा। मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। आज भी मुझे उस घटना का एक-एक पल याद है। फिर दीदी ने अपनी पैंटी को उतारा और मुझसे अपना लंड उसकी चूत में घुसाने को कहा।बीएफ बीएफ पिक्चर हिंदी में

दीदी अपनी दोनों टांगो को उठा कर बिस्तर पर लेट गई और जांघो को फैला दिया. चुदाई के कारण उसकी चुत गुलाबी से लाल हो गई थी. माँ ने मुझे अपने सीने से हटाया और में उनके सामने बैठ गया. मैं अब कुछ बोलने की पोजीशन में नहि था माँ बस मेरी और शेरनी की तरह घूरे जा रही थी,उनके फेस पे गुस्सा साफ़ था फिर माँ ने अपने बाल बाँधते हुए, और पल्लू ठीक करते करते पुछा.

राज- आसान था, मैंने प्रीति बनकर उससे चैट की. उसका लंड खड़ा कर दिया. उसके कुछ वीडियो और फोटो मांग लिये. उसने अपने मोबाइल को कम्प्यूटर से कनेक्ट कर लिया. मैंने अपने एक दोस्त की मदद से उसका कम्प्यूटर हैक कर लिया और सारे वीडियोज और फोटोज गायब कर लिए.

अरे दीदि, आप इतना तो समझिये, वो बच्चा कितना अच्छा हे, जैसे ही आप को देखा की आप उसके सामने चेंज करने में अनकंफर्टबल हे तो वो खुद ब खुद ही बाहर चला गया ना.. तो प्लीज चिंता मत करिये, वो अब म्याचूर हो चुक्का हे, उसे पता हे क्या करना चाहिये और क्या नहीं..,बहन की चूत की चुदाई उस रात हमने प्लानिंग की और मैं रात में अपने घर से बिना किसी को बताए बाइक लेकर उसके घर पहुँच गया. उसने मुझसे कह दिया था कि तुम आकर बाहर वाले कमरे में ही आकर मुझे फोन कर देना. मैं कमरे की कुण्डी खोल कर ही अन्दर वाले कमरे में रहूंगी.

News