पोट कमी करण्यासाठी व्यायाम दाखवा

नवरा बायको झवाझवी

नवरा बायको झवाझवी, तीसरे दिन तो आफ़त हो गई| भौजी की तबियत ख़राब हो गई थी| मेरी वजह से पिछले तीन दिनों से वो फांके कर रहीं थीं| मैं चार बजे से जाग रहा था और दिवार से पीठ लगाये बैठा था| घडी में सात बज रहे थे की तभी माँ धड़धडाते हुए अंदर आईं और बोलीं; मैं अपनी जिद्द पे अड़ा था ... मैंने बहुत जोर लगा के अम्मा को वापस सोने के लिए भेज ही दिया| भाभी अब भी कप-कपा रही थी... मुझे एक बात सूझी की क्यों न मैं भाभी को अपने शरीर से गर्मी दूँ| इससे पहले की आप कुछ गलत सोचें मैं आप सभी को कुछ बताना चाहता हूँ:

मैं हँसते हुए धक्के लगाने लगा। मेरी प्यारी सोनू बहन ने भी अपनी गांड को पीछे की तरफ धकेलते हुए मेरे लंड को अपनी चूत में लेना शुरू कर दिया। मैं: माँ...आप आ जाओ ना| प्लीज ...मैं आपको खुद लेने आ जाता हूँ...या फिर आप अनिल के साथ आ जाओ! किसी को कुछ बताने की जर्रूरत नहीं...शादी निपटा के चले जाना|

सुरेश: अरे अभी मेरी बहन से तुमने पूछा ही कहा है वो जो चीज़ है तुम्हारी बहन तो उसके आसपास्स भी न्ही है नवरा बायको झवाझवी नेहा गोद से उतरी और वरुण के साथ खेलने चली गई| मैं हाथ बंधे खड़ा था और इतने में मुझे पिताजी की आवाज आई;

తమన్నా సెక్స్ మూవీస్

  1. Maine sari ko thoda aur upar uthane ki jaise hi koshisk ki, bhabhi ne karvat badli aur sari ko neeche kheench liya. Maine gaharee sans li aur phir se sone ki koshish karne laga.
  2. नहीं भाई तुम अपनी बहन के होते हुए ऐसा कभी नहीं कर सकते, अगर कुछ करना होगा तो मैं करूँगी। भाई मैं इतनी स्वार्थी नहीं हूँ कि अपने प्यारे भाई को ऐसे तड़पता हुआ छोड़ दूँ। वो मुझसे बहुत प्रेम जाता रही थी और उसको लग रहा था कि मेरे लौड़े का पानी उसकी चूत नहीं निकला तो शायद मुझे बुरा लगेगा। செக்ஸ் மலையாள செக்ஸ்
  3. पथरीले रास्ते पर चलने के कारण ऑटो बहुत हिल रहा था और इसलिए अपना संतुलन बनाने के लिए सोनिया ने अपने बाएं हाथ को ऊपर उठा कर ऑटो का हुड पकड़ लिया। मैं: स्स्स्स्स्स्स....लगता है... मम्म... आज मेरे उसपे (लंड) पे बने निशान आप अपनी इससे (योनि) से पोंछ के रहोगे|
  4. नवरा बायको झवाझवी...भौजी: बहार आपकी चारपाई नहीं बिछी.. दरअसल भोजन के पश्चात घर में सब आपको ढूंढ रहे थे| पर आप तो यहाँ अपनी लाड़ली के साथ सो रहे थे तो आपकी बड़की अम्मा ने कहा कि मानु को यहीं सोने दो| दिन भर वैसे ही बहुत परेशान थे आप! हर एक लड़की चाहती है कि उसकी सुहागरात यादगार हो और उसकी सुहारात की सेज फूलों से सजी हो। मेरी भी यही ख्वाहिश थी, पर वो सब नहीं हो सका था।
  5. मैं: अम्मा मैंने जो कहना था वो बड़के दादा से कह दिया| मैं जानता हूँ की इसका कोई असर नहीं पड़ेगा पर हाँ कम से कम मेरी अंतर-आत्मा तो मुझे नहीं कचोटेगी| खेर यहाँ कोई लेडी डॉक्टर है... मेरा मतलब महिला डॉक्टर जो भौजी का एक बार चेक-अप कर ले? मैंने आयुष को गेम लगा के दी और उसे अपनी गोद में लेके बैठ गया| कीबोर्ड के बटन की चाप-चाप से नेहा भी उठ गई और बगल वाली कुर्सी पे आके बैठ गई| अब उसे भी गेम खेलने थी| दोनों लड़ने लगे की मैं खेलूंगा...मैं खेलूंगी|

bf मूवी डाउनलोड

मैं हँसते हुए धक्के लगाने लगा। मेरी प्यारी सोनू बहन ने भी अपनी गांड को पीछे की तरफ धकेलते हुए मेरे लंड को अपनी चूत में लेना शुरू कर दिया।

सतीश जी: वो बहुत बड़ा पचड़ा है... तुम उसमें ना ही पदो तो बेहतर है| अब चूँकि तुम अपने हो तो एक रास्ता है| थोड़ा टेढ़ा है ...पर मैं संभाल लूँगा| कुछ खर्चा भी होगा? Maine ek baar uske hoonth chod diye?.kaha?.tum bahut sundar ho rinky?.tum jaisi hi biwi to chahiye mujhe?..kitna sundar badan hai tumhara?..aur ek baar phir main uske hoonth peene laga. Ek lambe chumban ke baad?..usne sath nahin diya tha??.maine poocha?.rinky?.bura to nahin laga?

नवरा बायको झवाझवी,Ek to 18 saal ki maal, aur sindhi..maine uski Boor ko 3 baar choda…ab to Nand aur Bhabhi dono ek saath chudwati hain..mere to mauj hi mauj hain.

मैं: मेरे और उनके लिए दही-भल्ले, नेहा के लिए टिक्की और बाकी सब से पूछ लो वो क्या खाएंगे| और पैसे पिताजी से ले लेना...

Main saham uthi. Puri nangi hone ka dar sata raha tha mujhe. uske saath store mein nanga hona khatre se khali nahi tha. maine use baat mein uljhane ki koshis ki.हिंदी क्ष वीडियो

मैने कहा. कामिनी साली अब और बर्दाश्त नही होता. तू सीधी होकर, अपनी टांगे फैला कर लेट जा. अब मैं तुम्हारी चूत मे लंड घुसा कर तुम्हे चोद्ना चाहता हू. थोड़ी देर के सम्भोग के बाद हम दोनों ही पूरी ताकत से धक्के लगाने लगे, फिर कुछ जोरदार झटके लेते हुए वो शांत हो गए।

ठाकुर: मेरी बेटी से शादी करोगे? ये देखो फोटो... जवान है, सुशील है, खाना बनाने में माहिर है और दसवीं तक पढ़ी भी है वो भी अंग्रेजी स्कूल से|

मैं बहुत खुश थी क्योंकि जो मेरी अधूरी सी इच्छा थी वो पूरी हो गई और रात भर हम सोये नहीं। मैंने बहुत दिनों के बाद लगातार 5 बार सम्भोग किया और सुबह पति के आने से पहले चली गई।,नवरा बायको झवाझवी किसी तरह उन्होंने मेरा हाथ अपने लिंग से हटा लिया और फिर मेरे दोनों हाथों को एक हाथ से पकड़ लिया। अब तो मैं और भी टूट चुकी थी क्योंकि अब मैं हार चुकी थी, पर मेरा विरोध अभी भी जारी था।

News